मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैस की बड़ी कार्यवाही,ऑनलाइन वीसी के दौरान दो अधिकारी निलंबित,एक की सेवा समाप्ति

मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैस की बड़ी कार्यवाही,ऑनलाइन वीसी के दौरान दो अधिकारी निलंबित,एक की सेवा समाप्ति

सीएम हेल्पलाइन में उत्कृष्ठ प्रर्दषन के लिये डॉ. के.सी. सोनी सिविल सर्जन उमरिया को प्रशस्ति-पत्र प्रदान किया गया

एमपी।  मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस ने मंत्रालय (वल्लभ भवन) से समाधान ऑनलाइन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में विभिन्न जिलों के 5 प्रकरणों में शिकायतकर्ताओं की समस्याओं का तुरंत समाधान किया। समाधान के दौरान शिकायत निवारण में लापरवाही बरतने वाले 2 अधिकारियों को निलंबित किया गया, एक को सेवा से पृथक किया गया और 3 के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिये गये। मुख्य सचिव ने सीएम हेल्पलाइन में आवेदनों के निराकरण में उच्च प्रदर्शन करने वाले 7 अधिकारियों को प्रशस्ति-पत्र प्रदान भी किये। समाधान आनलाईन समीक्षा बैठक मे एनआईसी उमरिया मे कलेक्टर कृष्ण देव त्रिपाठी, पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार सिन्हा, डीएफओ मोहित सूद, अपर कलेक्टर मिषा सिंह, सीईओ जिला पंचायत ईला तिवारी, विद्युत मण्डल के अधिकारियो सहित विभिन्न विभागो के जिला प्रमुख अधिकारी उपस्थित रहें। सीएम हेल्पलाइन में उत्कृष्ठ प्रर्दषन के लिये डॉ. के.सी. सोनी सिविल सर्जन प्रशस्ति-पत्र प्रदान किया गया।
          कार्यक्रम में टीकमगढ़ की आवेदिका श्रीमती कौशल यादव के स्व-सहायता समूह को सेल्समेन द्वारा उचित मूल्य राशन नहीं दिये जाने की शिकायत सही पाये जाने पर कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी एवं सहायक समिति प्रबंधक श्री राघवेन्द्र सिंह को निलंबित किया गया और अन्य सहायक समिति प्रबंधक श्री ग्यारसी लाल कुशवाह को सेवा से पृथक किया गया। इनके विरुद्ध थाने में प्राथमिकी भी दर्ज कराई गई।कटनी जिले के विजयराघोगढ़ के आवेदक मनसुख लाल यादव की कियोस्क सेंटर संचालक द्वारा गबन संबंधी शिकायत सही पाये जाने पर कियोस्क संचालक और ऑपरेटर के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराई गई। आवेदक को 28 हजार रूपये की राशि वापस दिलाई गई।
          विदिशा जिले की आवेदिका पीमा बी ने जननी सुरक्षा एवं प्रसूति सुरक्षा योजना का लाभ नहीं मिलने की शिकायत की। प्रकरण में आवेदक को योजना का लाभ दिलाते हुए संचालक चिकित्सा शिक्षा को चेतावनी जारी की गई।
          शाजापुर जिले के आवेदक श्री धर्मेन्द्र सिंह लोहिया ने शिकायत की कि उसकी बहन शीतल डेढ़ वर्ष पूर्व से गायब थी। समाधान ऑनलाइन में प्रश्न लगने पर तत्परता से उसे खोजा गया और वह दो दिन में वापस मिल गई।
          रायसेन जिले के रातातलाई गाँव की आवेदिका कृष्णा मीना ने शिकायत की कि नसबंदी फेल होने पर उसे मुआवजा राशि नहीं दी गई थी। समाधान ऑनलाइन में प्रश्न लगने के बाद उसे यह राशि मिली है। प्रकरणों में त्वरित भुगतान के निर्देश दिये गये।
          वीसी में सीएम हेल्पलाइन में विभिन्न विभागों के प्रकरणों की समीक्षा के दौरान उच्च प्रदर्शन करने वाले 7 अधिकारियों श्री विजय कुमार विश्वकर्मा निरीक्षक कटनी, सुश्री सोनी दिनकर कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी इंदौर, श्री ब्रह्मस्वरूप श्रीवास्तव तहसीलदार इंदौर, श्री नरेन्द्र रघुवंशी जिला संयोजक अशोकनगर, श्री नरेन्द्र गौतम सहायक संचालक बैतूल, श्री संजय चतुर्वेदी उपयंत्री सागर और डॉ. के.सी. सोनी सिविल सर्जन उमरिया को प्रशस्ति-पत्र प्रदान किये गये।