चिता से शव उठा ले गई पुलिस, मरने के बाद भी शख्स को नहीं मिल पाई अंतिम विदाई

चिता से शव उठा ले गई पुलिस, मरने के बाद भी शख्स को नहीं मिल पाई अंतिम विदाई

अनूपपुर।  मध्यप्रदेश के अनूपपुर जिले के कोतमा में एक व्यक्ति की मरने के बाद भी अंतिम विदाई नहीं हो पाई। मौत के बाद शख्स का श्मशान घाट में चिता पर रखी बॉडी को अंतिम संस्कार से पहले ही पुलिस उठाकर ले गई।
          पूरा मामला कोतमा थाना क्षेत्र के ग्राम जमुनिहा का है। जहां एक शख्स की मौत के बाद अंतिम संस्कार के लिए ले गए परिजनों में मृतक के छोटे भाई ने उसकी सामान्य मौत नहीं बल्कि हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस से मदद की गुहार लगा दी। फिर क्या था मजबूर होकर पुलिस श्मशान घाट से शव को लाकर पोस्टमार्टम करा रही है। यह घटना पूरे गांव सहित आपसाप के गांवों में चर्चा का विषय बनी हुई है।
          कोतमा थाना क्षेत्र के ग्राम जमुनिहा निवासी राजभान सिंह गौड़ जो अपने बड़े भाई सूर्यभान सिंह के साथ रहता था, लकवा बीमारी से ग्रसित होने से लंबे इलाज के बाद मौत हो गई। मृतक के बड़े भाई ने दाह संस्कार के लिए श्मशान ले गए, जैसे ही मृतक के छोटे भाई चंद्रभान सिंह गौड़ को जानकारी लगी, उन्होंने तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दे दी।
          मृतक के छोटे भाई का आरोप है कि जमीन के लिए बड़े भाई ने हत्या की है। शिकायत के आधार पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए कोतमा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भिजवाया दिया, जहां उसका पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।