लोकायुक्त टीम की छापामार कार्यवाही, बाबू रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

लोकायुक्त टीम की छापामार कार्यवाही,  बाबू रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार

कटनी।  जिले के अतिरिक्त परिवहन अधिकारी (ARTO) के एक बाबू के द्वारा रिश्वत लेने पर उसे रंगे हाथ पकड़ा गया है। इस पूरी कार्यवाही में लोकायुक्त जबलपुर की टीम ने पूरे घटना को अंजाम दिया है। इसके अलावा 2 प्रायवेट एजेंटों के खिलाफ भी कार्यवाही की गई है।
          इस मामले में शिकायतकर्ता शैलेन्द्र द्विवेदी के द्वारा लोकायुक्त जबलपुर से शिकायत की गई थी कि आवेदक के कार और ट्रैक्टर के नए रजिस्ट्रेशन के लिए 46 फाइल पास कराने के लिए परिवहन विभाग के बाबू जितद्र सिंह बघेल के द्वारा रिश्वत की मांग की जा रही है ।इस पूरे कारनामे में 2 प्राइवेट एजेंट सुखेन्द्र तिवारी और रावेंद्र सिंह भी शामिल रहे है। शिकायतकर्ता के द्वारा रिश्वत नहीं देने की बात पर वह लोग उसका काम नहीं करने की धमकी दे रहे थे। जिससे परेशान होकर शिकायतकर्ता ने इस पूरे मामले की शिकायत लोकायुक्त जबलपुर से कर दी।
          शिकायतकर्ता की शिकायत लोकायुक्त के द्वारा सही पाए जाने पर पूरी प्लानिंग और रणनीति के तहत उन्हें ट्रैप करने का प्लान बनाया गया और उनके रणनीति के तहत शिकायतकर्ता के द्वारा परिवहन विभाग के बाबू जितेंद्र सिंह बघेल को रिश्वत की राशि 96000/ रुपए दी गई। जिसके बाद लोकायुक्त की टीम ने परिवहन विभाग के बाबू को रिश्वत की राशि सहित रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया है। इस पूरी कार्यवाही में परिवहन विभाग के बाबू के अलावा दो प्राइवेट व्यक्ति को भी आरोपी बनाया गया है जिसमें परिवहन एजेंट सुखेंद्र तिवारी और रविंद्र सिंह भी शामिल है। लोकायुक्त टीम के द्वारा छापामार कार्यवाही के बाद आगे की कार्यवाही नियमानुसार की गई है।
          इस पूरी कार्यवाही में लोकायुक्त डीएसपी दिलीप, झरबड़े निरीक्षक स्वपनिल दास, निरीक्षक मंजू किरण निरीक्षक भूपेंद्र कुमार दीवान एवं टीम के अन्य सदस्य शामिल रहे।