भाजपा के कुशासन से महिलायें परेशान, महिला कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष विभा पटेल ने सरकार पर साधा निशाना

भाजपा के कुशासन से महिलायें परेशान, महिला कांग्रेस  प्रदेश अध्यक्ष विभा पटेल ने सरकार पर साधा निशाना

उमरिया। महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती विभा पटेल ने भाजपा पर जनता का शोषण करने का आरोप लगाया है। उन्होने कहा कि केन्द्र एवं राज्य सरकार की कुनीतियों के चलते हर वर्ग परेशान हाल है। विशेषकर महिलाओं के लिये तो मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। मंहगाई के कारण गृहणियों का गृहस्थी चलाना मुहाल है। अपराध चरम पर है, बेटियां आये दिन उत्पीडऩ का शिकार हो रही है। माताओं और शिशुओं का पोषण आहार तक सरकार मे बैठे दलालों के पेट मे जा रहा है। ऐसी शर्मनाक स्थिति के बावजूद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सुशासन की ताल ठोंकते फिर रहे हैं। श्रीमती पटेल उमरिया मे जिला महिला कांग्रेस द्वारा आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहीं थी। कार्यक्रम मे मप्र कांग्रेस कमेटी के महासचिव अजय सिंह, प्रदेश प्रतिनिधि ओपी द्विवेदी, ठाकुरदास सचदेव, रामकिशोर चतुर्वेदी, त्रिभुवन प्रताप सिंह समेत बड़ी संख्या मे पार्टी पदधिकारी और कार्यकर्ता उपस्थित थे। 

घर-घर पहुंचायें कुशासन की जानकारी
          प्रदेश अध्यक्ष विभा पटेल ने कहा कि प्रदेश मे बैठी अनैतिक सरकार का अंत अब निकट है। प्रत्येक महिला पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता गांवों का दौरा कर लोगों को भाजपा के कुशासन से अवगत करायें और लोगों को परिवर्तन का संदेश दें। सम्मेलन को जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजेश शर्मा, श्रीमती जमुना मरावी, संगठन प्रभारी श्रीमती यशोदा पटले, महिला जिला कंाग्रेस अध्यक्ष अनीता सिंह, श्रीमती सावित्री सिंह, श्रीमती शकुतंला धुर्वे, श्रीमती अंजू लल्लू सिंह, दुर्गावती सिंह ने भी संबोधित किया। मंच का संचालन विक्रम सिंह द्वारा किया गया।  

प्रथम प्रवास पर आत्मीय स्वागत
          इसके पूर्व पहली बार जिला प्रवास पर पहुंचीं महिला प्रदेश अध्यक्ष का मंगल भवन परिसर मे आत्मीय स्वागत किया गया। कार्यक्रम मे नपा उपाध्यक्ष अमृत लाल यादव, मनोज सिंह, कांग्रेस सेवादल के जिलाध्यक्ष संतोष सिंह, अध्यक्ष विजेन्द्र सिंह अब्बू, हीरेश मिश्रा, नारायण सिंह, मोहन साहू, राहुलदेव सिंह, निरंजन प्रताप सिंह, इंजी.विजय कुमार कोल, विजय सिंह, सुखराज सिंह, ताजेन्द्र सिंह, राजीव सिंह बघेल, बाला सिंह टेकाम, नवीन कठौतिया, नासिर अंसारी, ओमप्रकाश सोनी, ताराचंद राजपूत, पीएन राव, उमेश कोल, पार्षद रामायणवती कोल,फहीमा नाज, रेखा सिंह, सरिता सोनी, श्रीमती संध्या सिंह, सूरज बाई, सरिता सोनी, परौहा जी, अतुल तिवारी, मो.खुर्रम शहजादा, तिलकराज सिंह, निवेदन कुमार सिंह, लालभवानी सिंह, एराश खान, अयाज खान, पारस प्रजापति, दिप्पू महोबिया, मो.अफजल, देवेन्द्र सिंह, उत्तरा लोधी, रामरती कोल, बुधिया विश्वकर्मा, शायरा खातून, रानी बाई, तुलसा कोल, बेबी सिंह, सिलोचना, सुमित्रा बाई, रजनीबाई, कसतुरिया बाई, पप्पीबाई, पुनिया, सकुंतला बाई, राजबाई, उमा, सुमन, केशीबाई,ममता सिंह, गीता सिंह, रजनी प्रजापति, आरती प्रजापति, ममता प्रजापति आदि सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।