ओबीसी वर्ग को जनसंख्या के मुताबिक न्यायपालिका में भी 52 प्रतिशत हिस्सा दे सरकार: प्रदीप सिंह कुशवाह

उमरिया / मानपुर।  भारत भूमि के एकता अखंडता और उत्कर्ष एवं शोषित वंचित पिछड़े तबके के उत्थान के लिए कार्य करने वाले ओबीसी समाज में जन्मे महापुरुषों की ओबीसी महासभा द्वारा जन्म जयंती एवं शहादत दिवस मनाया जा रहा है, इसी क्रम में भारत की प्रथम शिक्षिका माता सावित्रीबाई फुले की 192 वीं जयंती एवं पूर्व सांसद जननायक सुखलाल कुशवाहा की 58 वी जयंती के अवसर पर उमरिया जिले के नगर परिषद मानपुर में संयुक्त रुप से पकवाड़ा जयंती समारोह मनाया गया।

          कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में ओबीसी महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता व लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विद्याधर कुशवाहा एवं विशिष्ट अतिथि कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह पटेल, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य प्रदीप सिंह कुशवाह, जिला अध्यक्ष कटनी रामसरोवर कुशवाहा, जिला अध्यक्ष उमरिया बालक दास पटेल,प्रकाश सिंह कुशवाहा, एडवोकेट सुधीर साहू, सुश्री युक्ति वासवानी  उपस्थित रहे व अध्यक्षता ओबीसी महासभा महिला मोर्चा की ब्लॉक अध्यक्ष श्रीमती भानमति मंजू कुशवाहा ने की।

          इस अवसर पर मुख्य अतिथि विद्याधर कुशवाहा ने शोषित वंचित पिछड़े तबके के उत्थान के लिए कार्य करने वाले  भगवान बुद्ध, चक्रवर्ती सम्राट चन्द्रगुप्त मौर्य, विश्वविजेता सम्राट अशोक, महात्मा ज्योतिबा फुले माता सावित्रीबाई फुले, संविधान निर्माता डा भीमराव अंबेडकर व जननायक सुखलाल कुशवाहा जी के विचारों व सिद्धांतों पर प्रकाश डालते हुये पाखंड अंधविश्वास विश्वास से मुक्त होने का संदेश दिया व हक अधिकार के लिए ओबीसी एसटी एससी मायनारइटी समाज को एकजुट होकर इस हेतु संघर्ष करने आह्वान किया। विशिष्ट अतिथि राकेश सिंह पटेल कहा कि देश में पशु पक्षियों तक की गणना हो गई लेकिन 1931 के बाद से सरकार ने अभी तक ओबीसी वर्ग की जनगणना नहीं की वह ओबीसी वर्ग के उत्थान के लिए बजट कैसे तैयार करती है, सरकार से हम मांग करते हैं कि वह ओबीसी की जातिवार जनगणना कराये व जनसंख्या के मुताबिक हक आरक्षण दे। प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य प्रदीप सिंह कुशवाह ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि आजादी के बाद से लगातार ओबीसी एसटी एससी समाज अधिकारों को देने में भेदभाव कर रही है।प्रदेश में 2011 की प्रकाशित जनगणना के मुताबिक ओबीसी वर्ग की जनसंख्या 52 प्रतिशत है, अतः जनसंख्या के अनुपात में कार्यपालिका व्यवस्थापिका न्यायपालिका में अपना हक लेकर रहेगे चाहे जिस हद तक जाना पड़े । जिला अध्यक्ष बालकदास पटेल ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि वंचित व ओबीसी समाज को हक अधिकारो को प्राप्त करने के लिए ओबीसी महासभा में जुडकर इसे मजबूत करें ।

          इस मौके पर कार्यक्रम संयोजक दुर्गेश कुशवाहा दाऊ, खालिक अंसारी, रामगोपाल दाहिया, राजेन्द्र साहू, भारत साहू, लाखन साहू, राजेश पटेल, मुकेश पटेल, विनोद केवट, पूर्व सरपंच टेमनलाल साहू, रामबदन सिंह, रामखेलावन कुशवाहा, अशोक साहू, रामप्रमोद कुशवाहा, शिवप्रसाद कुशवाहा, प्रशांत  पटेल, शिवा कुशवाहा, सुरेश पटेल, कृष्ण कुमार पटेल, विवेक पटेल, मिथलेश पटेल, दरबारी लाल कुशवाहा, रामबल पटेल राममिलन सिह, महेश चौधरी अच्छेलाल, भोला केवट, कामता केवट आदि सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे ।

Symptoma.it